header ads

CS ( Company Secretary ) कंपनी सेक्रेटरी एड्मिशन, कैरियर, कोर्स, इत्यादि डिटेल्स हिन्दी मे


हैलो स्टूडेंट्स जैसा की आपको पता ही होगा की हमारा ये कैरियर डिटेल्स सिरीज़ की एक नयी पोस्ट है इस सिरीज़ मे आपको कैरियर से संबन्धित कुछ नए नए समभावनाए तथा उस कोर्स से संबन्धित पूरी जानकारी उपलब्ध कराते है तो आज की इस सिरीज़ मे हमने आप CS ( Company Secretary ) जिसे हिन्दी मे कंपनी सचिव भी कहा जाता है | जिसकी लगभग सभी कंपनी मे डिमांड होती है यही वो पद है जो किसी भी कंपनी को सुचारु रूप से चलाने मे मदद करता है | तो आइये इस पोस्ट CS ( Company Secretary ) कंपनी सेक्रेटरी  एड्मिशन, कैरियर, कोर्स, इत्यादि डिटेल्स हिन्दी मे के बारे मे डिटेल से चर्चा करेंगे  |

CS Course Details



CS ( Company Secretary ) क्या होता है :

किसी भी कंपनी की कार्यसत्ता को सुचारु रूप से चलाने के लिए एक सचिव का पद रिक्त रखा जाता है जिसे CS अर्थात कंपनी सचिव कहा जाता है | जिसका कोर्स ICSI ( Institute of Company Secretory of India ) के द्वारा कराया जाता है | यह कोर्स समान्यतः 3 साल का होता है जिसमे प्रत्येक वर्ष मे भी कुछ कैटेगरी है अर्थात प्रत्येक वर्ष दो बार परीक्षा होती है जो की पूरी तरह सेमेस्टर परीक्षा होती है | और यह पूरी तरह खुद से किया जाने वाला कोर्स है अर्थात इस कोर्स को आप किसी कोचिंग इंस्टीट्यूट से कर सकते है तथा इसके साथ साथ और भी कोई डिग्री कोर्स भी कर सकते है |


योग्यता :-  

अब आपके मन मे सवाल जरूर उठ रहे होंगे की CS के कोर्स को करने के लिए क्या क्या योग्यता की आवश्यकता की जरूरत होती है या यह कोर्स को कौन से संकाय वाले कर सकते है तो हम आपकी जानकारी के लिए बता देते है की अगर आप अपनी 12 वी कक्षा की पढ़ाई गणित, विज्ञान, तथा कॉमर्स संकाय से उत्तीर्ण किया है तो आप इस कोर्स मे प्रवेश लेने योग्य है अथवा आप स्नातक की डिग्री ले चुके है और ग्रेजुएशन के पश्चात इस कोर्स मे ऍडमिशन लेना चाहते है तो भी आप इस कोर्स मे अपनी पढ़ाई करके आगे अपनी कैरियर को एक बेहतर मुकाम दे सकते है |

  ◆   B.Com Details - Course, Salary, Duration, Syllabus And Colleges




CS सिलेबस की जानकारी :

अगर बात करे तीन वर्ष के कोर्स की तो इसमे पूछे जाने वाले परीक्षाओ मे मुख्यतः तीन चरण होते है :
1. Foundation Examination यह सबसे प्रथम चरण होते है प्रथम वर्ष मे आप इसी के बारे मे पढ़ते है तथा इसके अंतर्गत लगभग 4 पेपर होते है जो स्टूडेंट को पास करने होते है | जो दो सेमेस्टर के अनुरूप होती है |

Foundation Course Syllabus :


  • PAPER 1: BUSINESS ENVIRONMENT AND LAW
  • PAPER 2: BUSINESS MANAGEMENT, ETHICS & ENTREPRENEURSHIP
  • PAPER 3: BUSINESS ECONOMICS
  • PAPER 4: FUNDAMENTALS OF ACCOUNTING AND AUDITING

2. Executive Examination –  यह द्वितीय चरण की परीक्षा होती है अर्थात द्वितीय वर्ष की यह भी दो सेमेस्टर मे विभाजित होता है और इसके अंतर्गत स्टूडेंट्स को 7 परीक्षाए पास करनी होती है |

Module 1
  • Company Law
  • Cost & Management Accounting
  • Economic & Commercial Laws
  • Tax Laws & Practice
Module 2 
  • Company Accountants and Auditing Practices
  • Capital Markets and Securities Laws
  • Industrial, Labor and General Laws




3. Professional Examination यह इस कोर्स का अंतिम वर्ष मे होने वाला एक्जाम है जिसके अंतर्गत विद्यार्थियो को 9 पेपर दिलाने होते है जिसे पास करने के उपरांत आपको किसी संस्था या कंपनी के सेक्रेटरी के अंतर्गत कुछ महीनो की इंटर्नशिप करनी होती है | इसके पश्चात ही आप काही भी आवेदन करने योग्य हो जाते है | आप इन सभी परीक्षाओ के सिलेबस की pdf मे नीचे दिये गए download button पर क्लिक करके download कर सकते है |

 DOWNLOAD PDF


यदि आप 12 वी कक्षा के पश्चात इस कोर्स को करते है तो आपको ऊपर बताए गए तीनों (सभी ) परीक्षाओ को दिलाना होगा लेकिन यदि आप अपनी स्नातक डिग्री के पश्चात इस कोर्स को करते है तो आपको प्रथम वर्ष मे होने वाली Foundation Examination को दिलाने की आवश्यकता नहीं पड़ती आप सीधे द्वितीय वर्ष अर्थात Executive Examination से अपनी पढ़ाई शुरू करनी होती है |




फीस संरचना :

CS के बारे मे इतना सबकुछ जानने के बाद अब बारी आती है फीस की क्यूकी यह एक बहुत ही जरूरी टॉपिक हो जाता है जिसको ध्यान मे रखते हुये हम किसी भी कैरियर विकल्प का चुनाव करते है |
1. Foundation Program -  इस कोर्स हेतु 4500 के लगभग फीस होती है |
2. Executive Program - इस कोर्स हेतु 9000 लगभग फीस होती है |
3. Professional Program - इस अंतिम वर्ष के कोर्स हेतु लगभग 12000 फीस निर्धारित होती है |
यहाँ ऊपर बताए गए आंकड़ा अलग अलग क्षेत्र के लिए कुछ विभिन्न हो सकते है परंतु थोड़ा ही ज्यादा हो सकता है यहाँ दर्शाये गए आंकड़ो से बहुत अधिक नहीं हो सकता है |


CS कोर्स करने के बाद आप निम्नलिखित बन सकते है :
  • Manager
  • Assistant Manager
  • Bank and building societies
  • Employer’s cooperatives
  • Housing Associations
  • Insurance companies
  • Investment sectors
  • Trade bodies


सैलरी :

Company Secretary के बारे मे सब कुछ जानने के पश्चात अब आपको बताते है यह क्षेत्र मे सैलरी के बारे मे तो आप इस कोर्स को करने के बाद किसी भी कंपनी मे आवेदन कर सकते है जहां आपकी सैलरी बिना experience के 25000 से 40000 तक प्रतिमाह हो सकती है | और इस क्षेत्र मे आपकी एक्सपिरियन्स होने के पश्चात आपकी सैलरी मे बढ़ोत्तरी हो सकती है |



CS के कार्य :

विभिन्न प्रकार के कंपनी मे एक कंपनी सचिव का कार्य होता है की कंपनी को सुचारु रूप से चलाने के लिए कुछ नियम बनाए गए होते है जिन्हे देखना व यह देखना की कंपनी के सभी कार्य प्रणाली उस नियम के आधार पर चल रहे है या नहीं अथवा किसी भी प्रकार की मीटिंग उस कंपनी के नियमो का उल्लंघन तो नहीं कर रहा है |

  BCA Details - Course, Salary, Duration, Syllabus And Colleges

तो दोस्तो इस पोस्ट CS ( Company Secretary ) कंपनी सेक्रेटरी  एड्मिशन, कैरियर, कोर्स, इत्यादि डिटेल्स हिन्दी मे ) मे हमने आपको CS   कोर्स के बारे मे पूरी जानकारी   विस्तार से बताने की कोशिश किए है और वो भी बिलकुल अपनी भाषा हिन्दी मे जिससे सभी छात्रों को जल्द व आसानी से समझ आ सके यदि आप इससे संबन्धित और किसी टॉपिक पर पूछना चाहते है तो हमे बेझिझक कमेंट मे जरूर पूछे हम आपके सवालो का बहुत ही सरल भाषा मे जवाब देने की कोशिश करेंगे तथा ऐसी ही जानकारी हेतु नीचे दी गयी Bell Icon को जरूर दबाये व हमारा फेसबूक पेज भी लाइक करे 





इन्हे भी पढे :

12 वी के बाद कैरियर विकल्प ( आर्ट्स संकाय के लिए )
12 वी के बाद कैरियर विकल्प ( कॉमर्स संकाय के लिए )
12वी के बाद कैरियर के विकल्प ( विज्ञान संकाय के लिए )

No comments

धन्यवाद ! हम जल्दी ही आपके सवालो का जवाब देने की कोशिश करेंगे